AdvisorToClient
Share with clients:

वैश्विक निवेश के बारे में प्रश्न और उत्तर

EnglishChinese (中文)Punjabi (ਪੰਜਾਬੀ)

world-map-global

यहां कुछ खास सवाल दिए गए हैं, जिन पर आपको विचार करना चाहिए यदि आप कैनेडा  के बाहर निवेश करने की सोच रहे हैं।

क्या घरेलू पक्षपात अच्छी चीज़ है?

यदि घरेलू पक्षपात का अर्थ यह है कि आपका 100% पोर्टफोलियो कैनेडा में ही है, तो शायद यह एक गलती है। आपका इक्विटी पोर्टफोलियो, कैनेडा ई शेयरों में एक्सपोजर के साथ-साथ अमेरिका, यूरोप और जापान के वैश्विक शेयरों में भी एक्सपोजर के साथ वैश्विक रूप से विविधीकृत होना चाहिए। आप एशिया, पूर्वी यूरोप, अफ्रीका, तथा मध्य पूर्व और लैटिन अमेरिका में उभरते बाज़ारों पर भी विचार कर सकते हैं।

क्या प्रबल घरेलू पक्षपात दर्शाने वाले निवेशक वास्तव में बहुत कुछ चूक जाते हैं?

यह पोर्टफोलियो का विविधीकरण तथा वृद्धि की संभावनाएं कम कर देता है। कैनेडा  के बाज़ार में अपेक्षाकृत कम विविधीकरण हो पाता है, क्योंकि यहां चुनने के लिए कुछ ही शेयर होते हैं, और बड़ी पूंजी कंपनियों वाले शेयर कुछ ही कोर उद्योगों तक सीमित रहते हैं।

कैनेडा में प्रौद्योगिकी और स्वास्थ्यसेवा क्षेत्र की बड़ी कंपनियां ज्यादा नहीं हैं, और हालांकि हमारे बैंकिंग क्षेत्र में शेयर मजबूत हैं, लेकिन हमारी वित्तीय सेवाओं वाले कारोबारों में विविधीकरण नहीं है। हमारे यहां बहुत सारी अच्छी कंपनियां हैं, लेकिन विश्वस्तर पर और भी बहुत सारी महान कंपनियां हैं जिनमें आपका एक्सपोजर नहीं होगा अगर आप केवल कैनेडा  में निवेश करते हैं।

क्या परिचित घरेलू कंपनियों में निवेश करना और आसान पहुंच होना, स्मार्ट इन्वेस्टिंग है?

कभी-कभी परिचित कंपनियों में निवेश करना स्मार्ट माना जाता है। उदाहरण के लिए वॉरेन बफेट हमेशा यह कहते हैं कि वे वास्तव में उस बिजनेस को समझते हैं जिसमें वे निवेश कर रहे होते हैं।

फिर भी, वैश्विक बाज़ारों में एक्सपोजर रखने वाले म्युचुअल फंडों या ईटीएफ में निवेश करना बहुत महत्त्वपूर्ण है, क्योंकि विविधीकरण के फायदे केवल अलग-अलग कंपनियों में खरीदारी करने से ही नहीं, बल्कि दुनिया के विभिन्न हिस्सों में अर्थव्यवस्थाओं और व्यापक कारोबारों तक पहुंच बनाने से भी मिलते हैं।

क्या कैनेडा के वित्तीय जगत और संसाधनों पर केंद्रित रहना बड़ी गलती है?

यह विविधीकरण का सवाल है। बुरा दौर आने से पहले तक लोगों को लगता था कि सब कुछ सुरक्षित रूप से चलता रहेगा। 2008 की गिरावट से पहले अमेरिका का वित्तीय बाज़ार सुरक्षित दांव माना जाता था। और वहां के शेयरों में ज्यादा हित रखने वालों को काफी नुकसान उठाना पड़ा।

विविधीकरण आपको बुरे हालातों में सुरक्षा दे सकता है। हमने देखा कि निवेशक लोग 2000 में नोरटेल को सुरक्षित निवेश मानते थे क्योंकि वर्षों से उसके शेयर की कीमतें बढ़ती रही थीं। फिर एक एकाउंटिंग स्कैंडल की वजह से कंपनी गिरावट का शिकार हो गई; यह दिवालिया हो गई और 2009 में इसके शेयर डि-लिस्टेड हो गए। निवेशकों को बहुत कुछ गंवाना पड़ा।

ये प्रमुख उदाहरण हैं, जो आपको विविधीकरण की ज़रूरत का अहसास करा सकते हैं। यह जोखिम से सुरक्षा पाने का उचित तरीका है।

कैनेडा  के बाहर निवेशों से जुड़े मुख्य जोखिम कौन से हैं?

#1. करेंसी का जोखिम

कैनेडा  में, हम हर कहीं मुद्रा में उतार-चढ़ाव को भली-भांति समझते हैं, और हाल ही में हमने बहुत अस्थिर दौर देखा है।

#2. राजनैतिक जोखिम

उदाहरण के लिए, यदि आप चीन में निवेश करते हैं, तो आपको यह चिंता हो सकती है कि चीन की सरकार, युआन की कीमत सुधारने के लिए कदम उठा सकती है, या यह अपने पास मौजूद अमेरिकी सॉवरेन डेट का बड़ा हिस्सा बेचने का फैसला कर सकती है।

#3. टैक्स (कर)

विदेशी निवेश खरीदने पर कई बार आपको लाभांशों पर कर देना होता है जिससे आपकी वह कर-दक्षता काफी हद तक कम हो जाती है जो लाभांश आय से मिलती है।

#4. पूंजी बाज़ार की सत्यनिष्ठा

कुछ विशेष वैश्विक बाज़ार, आपको कैनेडा, यूके या अमेरिका के बराबर आश्वस्ति और आत्म-विश्वास नहीं दे सकते।

वैश्विक आर्थिक माहौल, घरेलू पक्षपात से किस तरह संबंधित है?

इसका असर होता है, क्योंकि यदि कैनेडा  किसी अन्य बाज़ार की अपेक्षा तेजी से बढ़ता है तो लोग कहेंगे, ‘हमें अपने देश से बाहर निवेशों की खोज के झंझट में क्यों पड़ना चाहिए?’

हालांकि कैनेडा की सफलता हमेशा बनी नहीं भी रह सकती। वैश्विक निवेश करने से कई बाज़ारों से प्रतिफल मिलने की संभावना बन जाती है।